3

Gulzar Shayari

gulzar shayari

Gulzar Shayari available in Hindi, Urdu and Roman scripts. Gulzar sir shayari quotes about the life,love and romanatic poems.

ना दूर रहने से रिश्ते टूट जाते हैं
ना पास रहने से जुड़ जाते हैं
यह तो एहसास के पक्के धागे हैं
जो याद करने से और मजबूत हो जाते हैं

na door rahne se rishte toot jaate hai
na paas rahne se jud jaate hai
yah to ehsaas ke pakke dhaage hai
jo yaad karne se aur mazboot ho jaate hai


Continue Reading